MP vs MLA in hindi PDF 2023

 

MP और MLA दोंनो जनता के जनप्रतिनिधि होते है | लेकिन भारत में संगत्यात्मक प्रणाली (federal system) के अपनाने के वजह से केंद्र और राज्य के अपने – अपने विषय पर कानून बनाने का अधिकार संविधान दवारा प्राप्त करते है | जिसका निर्धारण निर्वाचक क्षेत्र के दवारा किया जाता है | जैसे MP के लिए लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र और MLA के लिए विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र है |

MP vs MLA in hindi PDF download

आइये विस्तार से MP और MLA के बारे में एक – एक करके चर्चा करते है :-

MP का full फॉर्म है Member of parliament ये केंद्र के अधिकार क्षेत्र में संसद में कानून बनाने का कार्य करते है | MP संसद के दोनों सदनों के होते है | जैसे लोकसभा संसद और राज्यसभा संसद

MP बनने की योग्यताये :-

लोकसभा में संसद बनने का प्रारूप सीधे जनता के चुनाव से जुड़ा होता है | जिसमे देश की जनता अपने निर्वाचन क्षेत्र से एक संसद को चुनती है | जो की first past the post सिस्टम पर आधारित होती है | और राज्यसभा का चुनाव अप्रत्यक्ष रूप से होता है | जिसमे विधानसभा के संसद वोट देते है | जो proportional represenation पर आधारित होता है |

संविधान के अनुसार योग्यताये :-

:- वह लोकसभा के लिए 25 वर्ष की आयु से कम न हो | और राज्यसभा के लिए 30 की आयु से कम न हो |

:- वह भारत का नागरिक हो |

 

MLA क्या है ?

MLA का फुल फॉर्म member of legislative assembly है | जो की राज्य के अंतर्गत अपने अधिकार क्षेत्र में राज्य विधानसभा में कानून बनाने का कार्य करते है |

MLA बनने की योग्यताये :-MLA का चुनाव सीधे जनता के द्वारा किया जाता है | जिसमे जनता अपने निर्वाचन क्षेत्र में एक उम्मीदवार को चुनती है | और राज्य विधानसभा में उस निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधि करती है | यहाँ भी first past the post पर आधारित चुनाव होते है |संविधान के अनुसार योग्यताये :-:- वह भारत का नागरिक हो |:- उसकी आयु 25 वर्ष से काम न हो

1 thought on “MP vs MLA in hindi PDF 2023”

Leave a Comment