History in hindi best : इतिहास क्यों पढ़ें और कैसे! 2023

नमस्ते दोस्तों आप सभी का Hindinerve  Blog में स्वागत है| आज हम History in hindi के बारे चर्चा करेंगे और इतिहास को क्यों पढ़े और जीवन में इतिहास का क्या योगदान और उद्देश है के बारे में विस्तार से पढ़ेंगे| इतिहास को हम बचपन से स्कूल में पढ़ते हैं | जोकि बहुत उबाऊ विषय के रूप में जाना जाता है हम सब केवल इस subject को रट्टा मार लेते हैं लेकिन अगर हम एक बार समझ गए तो यह जीवन का एक अहम हिस्सा बन सकता है|

हम आपको इस लेख में History in hindi के बारे में step by step  History को किस तरह से पढ़ना चाहिए| जिससे हमारा रुचि इसमें बने ताकि हम अपना कैरियर इतिहास विषय में बना सके|

इतिहास क्या है? history in hindi 

इतिहास एक सामाजिक विज्ञान(social science) है| जिसके अंतर्गत हम इस बात का अध्ययन करते हैं कि अतीत काल में मनुष्य इस धरती पर कैसे रहता था? उसका खान-पान पहनावा तथा सामान्य जीवन कैसा था उसने अपनी मेहनत तथा कार्य से पृथ्वी के स्वरूप को किस प्रकार अपने जीवन के अनुकूल बनाया तथा अपने जीवन को भी किस प्रकार पृथ्वी के अनुकूल बदला किस प्रकार यह आदिमानव से आधुनिक व्यवस्था तक पहुंचा|

इतिहास history in hind हमें यह भी बताता है | कि पृथ्वी पर जीव का जन्म और विकास किस प्रकार हुआ|

इतिहास की उपयोगिता

history in hindi
history in hindi

इतिहास मानव समाज में रहने वाले मनुष्य की अतीत उपलब्धियों की कहानी है| इसीलिए इतिहास का ज्ञान हमारे लिए बहुत उपयोगी है जो कि निम्न बिंदुओं से स्पष्ट होती है:-

  • इतिहास में जो घटनाएं घटित हुई होती हैं उनकी पुनरावृति वर्तमान में भी होती रहती है इसलिए इतिहास का अध्ययन करके हम वर्तमान का वास्तविक ज्ञान प्राप्त कर सकते हैं|
  • इतिहास के अध्ययन से ही राष्ट्रीयता, देशभक्ति, स्वतंत्रता, अंतरराष्ट्रीय तथा विश्व बंधुत्व की भावना का विकास होता है|
  • इतिहास हमें मानवीय समाज का भी ज्ञान देता है| राजनीति में वही सफल होता है जिसे महात्मा गांधी, शिवाजी ,चंद्रगुप्त ,चाणक्य आदि महान व्यक्तियों का इतिहास का ज्ञान हो|
  • इतिहास history पढ़ने से ही पता चलता है कि कोई भी पूर्वर्ती शासक एक बार कोई गलती करके उसे दोबारा नहीं दोहराता है| क्योंकि ऐतिहासिक घटनाएं ही उसे ऐसा ना करने की शिक्षा देती हैं|

 इतिहास का विभाजन

समस्त इतिहास history in hindi को तीन वर्गों में विभाजित किया जा सकता है:-

1.प्रागैतिहासिक काल(prehistoric age):-इस काल में मनुष्य ने घटनाओं का कोई लिखित विवरण नहीं रखा गया है इस काल के विषय में जो भी जानकारी मिली है | वह पाषाण की उपकरणों,मिट्टी के बर्तनों, खिलौनों आदि से मिलती है|

2.ऐतिहासिक काल(historic age):-मानव के विकास के इस काल को इतिहास कहा जाता है इसके लिए लिखित written विवरण उपलब्ध है| जोकि History in hindi का अहम हिस्सा है|

3. आद्य ऐतिहासिक काल(Proto-historic age):- इस काल में लेखन कला के प्रचलन के बाद भी उपलब्ध लेख पढ़े नहीं जा सकते| जो कि आने वाले समय में इतिहासकारों के लिए एक अच्छा History in hindi का संगम हो सकता है|

ऐतिहासिक काल पर आधारित विभाजन( history in hindi)
1. प्राचीन इतिहास Ancient history 2. मध्यकालीन इतिहास Medieval history आधुनिक इतिहास Modern History

 

पुरातत्व(Archaeology) क्या है ? history in hindi

प्राचीन काल के लोग अपने पीछे कुछ चिन्ह symbol छोड़ गए हैं जिन्हें हम अवशेष या पूरा अवशेष भी कहते हैं| इन चिन्हों में विभिन्न प्रकार के औजार उपयोग की जाने वाली वस्तुएं समाधिया ,घरों के खंडहर, मनुष्य पशु के जीवाश्म fossil आदि प्रमुख हैं| सभी वस्तुओं को प्रातः की सामग्री कहा जाता है|

ऐसा विज्ञान जो पुरातत्व की सामग्री का उत्खनन(खुदाई) करके इसका अध्ययन करता है| तथा अतीत की मानव सभ्यता पर प्रकाश डालता है उसे पुरातत्व विज्ञान(Archaeology)कहा जाता है| तथा इससे संबंधित विभाग को पुरातत्व विभाग (Department of Archaeology) कहते हैं| इसका अध्ययन करने वाले को पुरातत्वविद(Archaelogists) कहते हैं|

पुरातत्व विभाग की कार्य प्रक्रिया ! 

पुरातत्व विभाग का कार्य प्राचीन काल के ऐतिहासिक महत्व के स्थानों की archeologist की उपस्थिति में खुदाई करना है और उनसे मिले अवशेषों को जमा करके उनका अध्ययन करना है उस काल के लोगों के जीवन रहन-सहन कला साहित्य और संस्कृति के विषय में अनुमान लगाना होता है तथा यह कार्बन-14  विधि द्वारा इसकी अवधि period of extience निश्चित करना होता है|

पुरातत्व विभाग की एक शाखा मानव शास्त्र anthropology कहलाती है| यहां भी history in hindi का एक महत्वपूर्ण भाग है|

निष्कर्ष Conclusion

इस लेख में हम history in hindi को विस्तार से चर्चा किए हैं| कि इतिहास का महत्व हमारे लिए कितना है और इसे कितने क्रमबद्ध तरीके से हम पढ़ सकते हैं जिससे हमारी रुचि निखरे | history हमें बताती है कि हमारे पूर्वज पहले किस तरह से अपना जीवन यापन करते थे| किस तरह उस समय के प्लानिंग आज के आज आधुनिकता को मात देते हैं| जैसे सिंधु घाटी सभ्यता और हम उनके उपलब्धियों को पर गर्व करते हैं तथा आश्चर्य में डूब जाते हैं|

आशा करते हैं कि हमारा यह ब्लॉग history in hindi आपको पसंद जरूरआया होगा कोई भी कोई प्रश्न पूछना हो तो कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं

यह भी जाने:-

spirituality kya hai अध्यात्म क्या है ? क्या है जीवन का सार !

FAQ अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न:-

इतिहास का जन्मदाता कौन है?

हेरोडोटस

भारत का इतिहास कितने प्रकार का है?

भारत का इतिहास तीन प्रकार का है प्राचीन इतिहास ,मध्यकालीन इतिहास ,आधुनिक इतिहास

इतिहास के कितने खंड होते हैं?

इतिहास के तीन खंड है| जो कि प्रागैतिहासिक इतिहास ऐतिहासिक काल आदि इतिहासिक काल

इतिहास की सबसे अच्छी परिभाषा क्या है?

अतीत के बारे में क्रमबद्ध तरीके से जाना ही इतिहास कहलाता है

 

 

 

Leave a Comment